Breaking News
Home / धर्म कथाएं

धर्म कथाएं

इन पौधों को लगाने से चमक सकता है भाग्य, और नौ ग्रह होते हैं शांत!

आपने कभी सोचा है क‍ि घर के बड़े-बुजुर्ग घर की चारों द‍िशाओं में कोई न कोई पौधा क्‍यों लगाते थे। आपको जानकर हैरानी होगी क‍ि इन पौधों में ग्रह दशाओं को ठीक करने की क्षमता होती है। इसल‍िए बड़े-बुजुर्ग घर की चारों द‍िशाओं में अलग-अलग पौधे लगाते थे। इस आर्टिकल …

Read More »

यह काम मंगळवार की रात को करें, धन की कमी दूर होगी, मां लक्ष्मी होंगी प्रसन्न!

माना जाता है कि मंगळवार को धन की देवी माँ लक्ष्मी को समर्पित किया जाता है। ज्योतिष के अनुसार, यदि आप मंगळवार को कुछ उपाय करते हैं, तो आपको धन और समृद्धि सहित सभी प्रकार की भौतिक सुख-सुविधाएं प्राप्त होंगी। मंगळ ग्रह के साथ मंगळवार भी जुड़ा हुआ है। ज्योतिष …

Read More »

वास्तव में, माता लक्ष्मी का रूप हैं इस महीने में जन्मी लड़कियां, जानिए कौन से हैं शुभ माह !

भारत में हिंदू लड़कियों को देवी का रूप मानते हैं। नवरात्रि पर लोग 9 कन्याओं की पूजा करते हैं और उन्हें भोजन कराते हैं। धार्मिक ग्रँथायों के अनुसार, देवी देवी ऐसा करने से प्रसन्न थीं। शास्त्र यह भी कहते हैं कि लड़कियों की पूजा की जानी है और यह भी …

Read More »

दुर्भाग्य आपके आसपास नहीं घूमेगा, बस करें तुलसी माता के ये 5 उपाय !

तुलसी के पौधे को हिंदू धर्म में भगवान का दर्जा दिया गया है। हम इसे एक पवित्र पौधा मानते हैं। कई घरों में नियमित रूप से तुलसी माता की पूजा भी की जाती है। कहा जाता है कि जिस घर में तुलसी का पौधा होता है, वहां देवी-देवताओं की कृपा …

Read More »

भोलेनाथ और माता लक्ष्मी के इस उपाय को संयुक्त करना चाहिए, कभी भी धन की कमी नहीं होगी !

चाहे कितना भी पैसा हो, वे आपको कमी ही लगता हैं। जीवन में अधिक धन की चाहत सभी के लिए यह मानव स्वभाव है। हालांकि, इसे पाने के लिए मजबूत किस्मत का सहारा लेना पड़ता है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने कुशल हैं और आप कितनी मेहनत करते …

Read More »

जिन महिलाओं के जन्म के समय उसके शरीर पर ऐसे निशान होते हैं, वह बहुत भाग्यशाली है !

जिन महिलाओं के जन्म के समय

हिंदू समाज में, एक महिला को घर की लक्ष्मी कहा जाता है। और उसकी पूजा भी की जाती है। यदि लड़की का जन्म घर में होता है, तो उसे देवी लक्ष्मी का रूप कहा जाता है। इसी तरह, जब बहू शादी के बाद घर में प्रवेश करती है, तो उसे …

Read More »